रोजाना फ्री टिप्स के लिए हमसे WhatsApp Group पर जुड़ें Join Now

रोजाना फ्री टिप्स के लिए हमसे Telegram Group पर जुड़ें Join Now

Latest Post अमावस्या माघ मास

मौनी अमावस्या पूजा विधि || Mauni Amavasya Puja Vidhi || Mauni Amavasya Ki Puja Vidhi

मौनी अमावस्या पूजा विधि, Mauni Amavasya Puja Vidhi, Mauni Amavasya Puja Muhurat, Mauni Amavasya Puja Samagri, Mauni Amavasya Puja Kaise Kare, Mauni Amavasya Puja Mantra, Mauni Amavasya Puja Batao. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

मौनी अमावस्या पूजा विधि || Mauni Amavasya Puja Vidhi

माघ मास में आने वाली अमावस्या “मौनी अमावस्या” के नाम से जानी जाती है ! “मौनी अमावस्या” का बड़ा महत्व माना जाता है ! इस दिन मौन व्रत धारण करना चाहिए ! इस दिन मौन धारण करते हुए सूर्य उदय से पहले स्नान करना लाभकारी रहता है ! इस दिन धार्मिक स्थल पर जाकर स्नान करने से पुण्य मिलता है ! ऐसा माना जाता है की इस दिन संगम पर देव व् देवता स्नान करने आते है ! इसलिए इस दिन गंगा स्नान करने के लिए कहा जाता है ! यह मास भी कार्तिक मास के सामान पुण्य मास कहलाता है ! यदि “मौनी अमावस्या” सोमवार के दिन आ जाती है तो इसका महत्व व् प्रभाव और दोनों से ज्यादा बढ़ जाता है ! हमारे शास्त्रों में कहा जाता है की सतयुग में जातक द्वारा तप करने से, त्रेता युग में जातक द्वारा ज्ञान से, द्वापर युग में श्री हरी की भक्ति से व् कलयुग में दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है ! इस दिन पवित्र नदियों व् धार्मिक स्थल पर जाकर स्नान करके सामर्थ के अनुसार दान करना चाहिए ! इस आप दान में अन्न, गर्म कपडे, धन, गो दान , भूमि, आदि का दान करना बहुत अच्छा रहता है ! इस दिन तिल का दान करना भी बहुत उत्तम रहता है ! पवित्र भाव से ब्राह्मण एवं परिजनों के साथ भोजन करें ! हम यंहा आपको Mauni Amavasya Puja Vidhi के बारे में बताने जा रहे हैं ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे मौनी अमावस्या पूजा विधि || Mauni Amavasya Puja Vidhi को पढ़कर आप भी मौनी अमावस्या की पूजा विधि सही तरह से कर सकोगें !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 9667189678 Mauni Amavasya Puja Vidhi By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

मौनी अमावस्या पूजा विधि || Mauni Amavasya Puja Vidhi

मौनी अमावस्या 2022 कब हैं ? || Mauni Amavasya 2022 Kab Hai ?

इस वर्ष 2022 में मौनी अमावस्या 1 फरवरी 2022, वार मंगलवार के दिन बनाई जाएगी ।

राशिफल : आज का दिन आपके लिए कैसा रहेगा ? : Click Here

वास्तु टिप्स : भागते हुए 7 घोड़े का चित्र कहाँ लगाये और इसके फ़ायदे : Click Here

मौनी अमावस्या पूजा विधि || Mauni Amavasya Puja Vidhi :

मौनी अमावस्या वाले दिन किसी भी पवित्र नदियों व् धार्मिक स्थल पर जाकर स्नान करना चाहिए ! यदि आप जाने में समर्थ नही हो तो अपने घर पर गंगाजल स्नान के जल में डालकर स्नान करना चाहिए ! इस दिन विशेष रूप से भगवान “श्री विष्णु जी” व् भगवान “श्री शिव शंकर जी” की पूजा करनी चाहिए ! और पीपल में अर्घ्य देकर परिक्रमा करें और दीप दान करें ! इस दिन जिनके लिए व्रत करना संभव नहीं हो वह मीठा भोजन करना चाहिए ! यह तो आप पहले से जानते हो की इस अमावस्या को “मौनी अमावस्या” के नाम से जाना जाता है इसलिए इस दिन मौन व्रत का पालन करना चाहिए !

राशिफल : आज का दिन आपके लिए कैसा रहेगा ? : Click Here

वास्तु टिप्स : भागते हुए 7 घोड़े का चित्र कहाँ लगाये और इसके फ़ायदे : Click Here

मौनी अमावस्या वाले दिन व्यक्ति को अपने सामर्थ के अनुसार दान करना चाहिए ! दान में अन्न, गर्म कपडे, धन, गो दान , भूमि, आदि का दान करना बहुत अच्छा रहता है ! इस दिन तिल का दान करना भी बहुत उत्तम रहता है ! पवित्र भाव से ब्राह्मण एवं परिजनों के साथ भोजन करें ! चूंकि चन्द्रमा को मन का स्वामी माना गया है और अमावस्या को चन्द्रदर्शन नहीं होते हैं। जिससे इस दिन मन:स्थिति कमजोर होती है ! अत: मौन व्रत कर मन को संयम में रखते हुए दान-पुण्य का विधान बनाया गया है !

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here 

रोजाना फ्री टिप्स के लिए हमसे WhatsApp Group पर जुड़ें Join Now

रोजाना फ्री टिप्स के लिए हमसे Telegram Group पर जुड़ें Join Now

https://panditlalittrivedi.com/
Call Now Button