Latest Post नवरात्रि

भुवनेश्वरी अष्टकम || Bhuvaneshwari Ashtakam || Bhuvaneshwari Ashtak

भुवनेश्वरी अष्टकम, Bhuvaneshwari Ashtakam, Bhuvaneshwari Ashtakam Ke Fayde, Bhuvaneshwari Ashtakam Ke Labh, Bhuvaneshwari Ashtakam Benefits, Bhuvaneshwari Ashtakam Pdf, Bhuvaneshwari Ashtakam Lyrics, Bhuvaneshwari Ashtakam Mp3 Download. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

श्री भुवनेश्वरी अष्टकम || Shri Bhuvaneshwari Ashtakam

यह श्री भुवनेश्वरी अष्टकम श्री रुद्रयामले तन्त्र से लिया गया हैं ! श्री भुवनेश्वरी अष्टकम पढ़ने से साधक को अपने जीवन में में धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष चारों पुरुषार्थो की प्राप्ति निश्चित रूप से होती है । Shri Bhuvaneshwari Ashtakam पढ़ने से दरिद्रता को समृद्धि में बदला जा सकता हैं !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Shri Bhuvaneshwari Ashtakam By Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi.

श्री भुवनेश्वरी अष्टकम || Shri Bhuvaneshwari Ashtakam

॥ श्रीभुवनेश्वर्यष्टकम् ॥ अथ श्रीभुवनेश्वर्यष्टकम् ।

श्रीदेव्युवाच –

प्रभो श्रीभैरवश्रेष्ठ दयालो भक्तवत्सल ।

भुवनेशीस्तवम् ब्रूहि यद्यहन्तव वल्लभा ॥ १॥

ईश्वर उवाच –

शृणु देवि प्रवक्ष्यामि भुवनेश्यष्टकं शुभम् ।

येन विज्ञातमात्रेण त्रैलोक्यमङ्गलम्भवेत् ॥ २॥

ऊं नमामि जगदाधारां भुवनेशीं भवप्रियाम् ।

भुक्तिमुक्तिप्रदां रम्यां रमणीयां शुभावहाम् ॥ ३॥

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

त्वं स्वाहा त्वं स्वधा देवि ! त्वं यज्ञा यज्ञनायिका ।

त्वं नाथा त्वं तमोहर्त्री व्याप्यव्यापकवर्जिता ॥ ४॥

त्वमाधारस्त्वमिज्या च ज्ञानज्ञेयं परं पदम् ।

त्वं शिवस्त्वं स्वयं विष्णुस्त्वमात्मा परमोऽव्ययः ॥ ५॥

त्वं कारणञ्च कार्यञ्च लक्ष्मीस्त्वञ्च हुताशनः ।

त्वं सोमस्त्वं रविः कालस्त्वं धाता त्वञ्च मारुतः ॥ ६॥

गायत्री त्वं च सावित्री त्वं माया त्वं हरिप्रिया ।

त्वमेवैका पराशक्तिस्त्वमेव गुरुरूपधृक् ॥ ७॥

साधना Whatsapp ग्रुप्स
तंत्र-मंत्र-यन्त्र Whatsapp ग्रुप्स
ज्योतिष व राशिफ़ल Whatsapp ग्रुप्स
Daily ज्योतिष टिप्स Whatsapp ग्रुप्स

त्वं काला त्वं कलाऽतीता त्वमेव जगतांश्रियः ।

त्वं सर्वकार्यं सर्वस्य कारणं करुणामयि ॥ ८॥

इदमष्टकमाद्याया भुवनेश्या वरानने ।

त्रिसन्ध्यं श्रद्धया मर्त्यो यः पठेत् प्रीतमानसः ॥ ९॥

सिद्धयो वशगास्तस्य सम्पदो वशगा गृहे ।

राजानो वशमायान्ति स्तोत्रस्याऽस्य प्रभावतः ॥ १०॥

भूतप्रेतपिशाचाद्या नेक्षन्ते तां दिशं ग्रहाः ।

यं यं कामं प्रवाञ्छेत साधकः प्रीतमानसः ॥ ११॥

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

तं तमाप्नोति कृपया भुवनेश्या वरानने ।

अनेन सदृशं स्तोत्रं न समं भुवनत्रये ॥ १२॥

सर्वसम्पत्प्रदमिदं पावनानाञ्च पावनम् ।

अनेन स्तोत्रवर्येण साधितेन वरानने ।

समप्दो वशमायान्ति भुवनेश्याः प्रसादतः ॥ १३॥

इति श्रीरुद्रयामले तन्त्रे श्रीभुवनेश्वर्यष्टकं सम्पूर्णम् ।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Leave a Comment

Call Now Button
You cannot copy content of this page