Latest Post रत्न

एक मुखी रुद्राक्ष धारण विधि || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi || 1 Mukhi Rudraksha

एक मुखी रुद्राक्ष धारण विधि, 1 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi, 1 Mukhi Rudraksha Dharan Mantra, 1 Mukhi Rudraksha Dharan Kaise Kare, 1 Mukhi Rudraksha Dharan Karne Ke Fayde, 1 Mukhi Rudraksha Dharan Karne Ke Labh.

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

एक मुखी रुद्राक्ष धारण विधि || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi

हम यंहा आपको इस पोस्ट के माध्यम से 1 Mukhi Rudraksha Dharan करने के बारे में बताने जा रहे हैं ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे एक मुखी रुद्राक्ष धारण विधि || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi || 1 Mukhi Rudraksha Dharan को पढ़कर आप भी एक मुखी रुद्राक्ष को कैसे धारण करें इसके बारे में अधिक से अधिक जान सकोंगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! जय श्री मेरे पूज्यनीय माता – पिता जी !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें Mobile & Whats app Number : 9667189678 1 Mukhi Rudraksha Dharan Vidhi By Online Specialist Astrologer Sri Hanuman Bhakt Acharya Pandit Lalit Trivedi.

एक मुखी रुद्राक्ष के प्रकार || 1 Mukhi Rudraksha Ke Prakar

यह तो आप सब जानते हो की रुद्राक्ष की उत्पत्ति रूद्र देव के आंसुओं से हुई है । 1 Mukhi Rudraksha सबसे उत्तम आंवले के आकार का होता है । और छोटे बेर के आकार वाले रुद्राक्ष कों मध्य श्रेणी में आते हैं । मोती के दाने के समान छोटे आकार वाले रुद्राक्ष को निम्न श्रेणी का माना जाता है । दुनिया के सबसे उत्तम रुद्राक्ष नेपाल में पाए जाते हैं । और रुद्राक्ष भारत, मलेशिया व् इंडोनेशिया में भी पाए जाते हैं । एक मुखी रुद्राक्ष 1 Mukhi Rudraksha दो प्रकार के होते हैं ! एक तो काजू के समान लम्बे रुद्राक्ष और दूसरा आकार गोल होता है । एक मुखी रुद्राक्ष का चार रंग के होते हैं, हल्का सफ़ेद, पीला, लाल और काला । कहा जाता है की हल्का सफ़ेद रुद्राक्ष ब्राह्मणों, पीला रुद्राक्ष क्षत्रियों, लाल रुद्राक्ष वैश्यों व् काला रुद्राक्ष शुद्रों को धारण करना चाहिए ! वैसे लाल रुद्राक्ष सभी वर्णों के लिए श्रेष्ठ है, यह 1 Mukhi Rudraksha भगवान शिव को भी अति प्रिय है ।

एक मुखी रुद्राक्ष को कैसे धारण करें || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Kaise Kare

प्रत्येक रुद्राक्ष या रुद्राक्ष की माला को बिना सिद्ध किये 1 Mukhi Rudraksha Dharan करने से वह पूर्ण फल प्राप्ति नही दे पाता हैं ! इसलिए हमें प्रत्येक रुद्राक्ष या रुद्राक्ष की माला सिद्ध करके या किसी योग्य ब्रहामण सिद्ध करवाकर ही धारण करना चाहिए !

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

1 Mukhi Rudraksha की माला या 1 Mukhi Rudraksha, जो भी आप धारण करना चाहते हैं, उसें शुक्ल पक्ष के किसी भी भी सोमवार के दिन धारण कर सकते हैं । सर्वप्रथम रुद्राक्ष को गौमूत्र, दही, शहद, कच्चे दूध और गंगाजल से स्नान करके शुद्ध करना चाहिए ! यह सब क्रिया करते हुए भगवान शिव जी पंचाक्षर मंत्र “ॐ नमः शिवाय” का जाप करना चाहिए ! शुद्ध करके इस चंदन, बिल्वपत्र, लालपुष्प अर्पित करें तथा धूप, दीप दिखाकर दिए गये नीचे मन्त्रों में से कोई एक सवा लाख जाप करके एक मुखी रुद्राक्ष सिद्ध कर ले ! उसके बाद रुद्राक्ष को शिवलिंग से स्पर्श कराकर पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके मंत्र जाप करते हुए 1 Mukhi Rudraksha Dharan करें ।

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

एक मुखी रुद्राक्ष धारण करने का मंत्र || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Karne Ka Mantra

विनियोग –

ॐ अस्य श्रीं शिव मन्त्रस्य प्रसाद ऋषि: पंक्ति छन्द: शिवों देवता हंकारो बीजम् औं शक्ति: मम चतुर्वर्गसिदयर्थे रुद्राक्षधारणार्थे जपे विनियोग: ।

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

ध्यानम् –

मुक्तापीनपयोदमौक्तिकजपार्णैर्मुखै: पंचभि: ।

स्त्र्यक्षै राजितमीशमिन्दुमुकुटं पूर्णेन्दुकोटिप्रभम् ॥

शूलंटंककृपाणवज्र  दहनान्नागेन्द्रघंटाशुकं ।

हस्ताजेष्वभयं वरांश्चदधतं तेजोज्ज्वलं चिन्तये ॥

एक मुखी रुद्राक्ष धारण मंत्र || 1 Mukhi Rudraksha Dharan Karne Ka Mantra :

॥ ॐ ऐं ह्रं औं ऐं ॐ ॥ ॥ Om Aim Hrm Oum Aim Om ॥

॥ ॐ नमः ह्रीम ॥

॥ ॐ नमः शिवाय ॥

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Leave a Comment

Call Now Button
You cannot copy content of this page