Latest Post सावन मास

माँ मंगला गौरी मंत्र || Maa Mangla Gauri Mantra || Mangala Gauri Puja Mantra

माँ मंगला गौरी मंत्र, Maa Mangla Gauri Mantra, Mangla Gauri Mantra Ke Fayde, Mangla Gauri Mantra Ke Labh, Mangla Gauri Mantra Benefits, Mangla Gauri Mantra Pdf, Mangla Gauri Mantra Mp3 Download, Mangla Gauri Mantra Lyrics, Mangla Gauri Mantra For Marriage / Manglik Dosh. 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

नोट : यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

माँ मंगला गौरी मंत्र || Maa Mangla Gauri Mantra || Mangala Gauri Puja Mantra

श्री मंगला गौरी मंत्र को पढ़ने से महिलाओं की कुण्डली में वैवाहिक सुख में कमी या विवाह के बाद अलगाव, मांगलिक दोष, दांम्पत्य जीवन में परेशानी आदि अशुभ योग़ कुंडली में शांति मिलती हैं ! हम इस पोस्ट में आपको Maa Mangla Gauri Mantra के बारे में बताने जा रहे हैं ! Online Specialist Astrologer Acharya Pandit Lalit Trivedi द्वारा बताये जा रहे माँ मंगला गौरी मंत्र || Maa Mangla Gauri Mantra || Mangala Gauri Puja Mantra को पढ़कर आप श्री मंगला गौरी मंत्र को विधि पूर्वक कर सकोंगे !! जय श्री सीताराम !! जय श्री हनुमान !! जय श्री दुर्गा माँ !! यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो तो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करके या नीचे दिए लाइव चैट ( Live Chat ) से चैट करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या लाल किताब कुंडली भी बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें : 9667189678 Maa Mangla Gauri Mantra By Online Specialist Astrologer Sri Hanuman Bhakt Acharya Pandit Lalit Trivedi.

माँ मंगला गौरी मंत्र || Maa Mangla Gauri Mantra || Mangala Gauri Puja Mantra

माँ मंगला गौरी मंत्र विधि || Maa Mangla Gauri Mantra Vidhi

दिए गये माँ मंगला गौरी मंत्र को 11, 21, 51, 108 बार या अपनी श्रध्दा के अनुसार जाप करने से लाभ प्राप्त होता हैं ! 

मन्त्र : सर्वमंगल मांगल्ये, शिवे सर्वार्थ साधिके. शरणनेताम्बिके गौरी नारायणी नमोस्तुते..

ADS : सरकारी नौकरी संबधित लेटेस्ट अपडेट पाने के लिए इस Website पर जाए : Click Here

माँ मंगला गौरी मंत्र || Maa Mangla Gauri Mantra

मंत्र ( Maa Mangla Gauri Mantra ) : ह्रीं मंगले गौरि विवाहबाधां नाशय स्वाहा ।

30 साल के फ़लादेश के साथ वैदिक जन्मकुंडली बनवाये केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

विनियोग : अस्य श्री मंगला गौरि मन्त्रस्य अजऋषिः गायत्री छन्दः श्री मंगलागौरि देवता ह्रीं बीजं स्वाहा शक्तिः ममाभीष्टं सिद्धये जपे विनियोगः।

ऋष्यादि न्यास – अजाय ऋषये नमः,शिरसि। – गायत्री छन्दसे नमः, मुखे। – मंगला गौरि देवतायै नमः, हृदि। – ह्रीं बीजाय नमः, गुह्ये। -स्वाहा शक्तये नमः, पादयोः।

करन्यास – अंगुष्ठाभ्यां नमः। ह्रीं तर्जनीभ्यां नमः। मंगले गौरि मध्यमाभ्यां नमः। विवाहबाधां अनामिकाभ्यां नमः। नाशय कनिष्ठिकाभ्यां नमः। स्वाहा करतलकरपृष्ठाभ्यां नमः।

अंगन्यास – हृदयाय नमः। ह्रीं शिरसे स्वाहा। मंगले गौरि शिखायै वषट्। विवाह बाधां कवचाय हुम्। नाशय नेत्रत्रयाय वौषट्। स्वाहा अस्त्राय फट्।

साधना Whatsapp ग्रुप्स
तंत्र-मंत्र-यन्त्र Whatsapp ग्रुप्स
ज्योतिष व राशिफ़ल Whatsapp ग्रुप्स
Daily ज्योतिष टिप्स Whatsapp ग्रुप्स

ध्यान: गीर्वाणसंधार्चितपाद पंकजारूण् प्रभा बाल शशांक शेखरा। रक्ताम्बरा लेपन पुष्पयुंग मुदे सृणिं सपाशं दधतीं शिवास्तु नः।।

पूजन यंत्र अनुष्ठान विधि : नित्य कर्मों से निवृत्त होकर आचमन एवं मार्जन कर चैकी या पटरे पर पीला कपड़ा बिछाकर उस पर अष्ट गंध एवं चमेली की कलम से भोजपत्र पर लिखित श्री मंगला गौरी पूजन यंत्र स्थापित कर विधिवत विनियोग, न्यास एवं ध्यान कर पंचोपचार (रोली, चावल, फूल, धूप एवं दीप) से उस पर श्री मंगला गौरी का पूजन कर उक्त Maa Mangla Gauri Mantra का जप करना चाहिए।

Maa Mangla Gauri Mantra जप संख्या 64,000, मतांतर से 1,25,000 अनुष्ठान के नियम नित्य कर्मों के बाद आसन पर पूर्वाभिमुख या उत्तराभिमुख बैठकर चंदन/टीका लगाकर प्रसन्न भाव से अनुष्ठान करना चाहिए। विश्वासपूर्वक विनियोग, श्रद्धापूर्वक पूजन एवं मनोयोगपूर्वक जप करने से अनुष्ठान सफल होता है। सूर्योदय से एक प्रहर (तीन घंटे) का समय उत्तम तथा मध्याह्न का समय मध्यम होता है। रात्रि में यह अनुष्ठान नहीं करना चाहिए। अनुष्ठान के दिनों में शुद्ध, सात्विक मानसिक और शारीरिक रूप से होना चाहिए ! 

10 वर्ष के उपाय के साथ अपनी लाल किताब की जन्मपत्री ( Lal Kitab Horoscope  ) बनवाए केवल 500/- ( Only India Charges  ) में ! Mobile & Whats app Number : +91-9667189678

<<< पिछला पेज पढ़ें                                                                                                                      अगला पेज पढ़ें >>>


यदि आप अपने जीवन में किसी कारण से परेशान चल रहे हो तो ज्योतिषी सलाह लेने के लिए अभी ज्योतिष आचार्य पंडित ललित त्रिवेदी पर कॉल करके अपनी समस्या का निवारण कीजिये ! +91- 9667189678 ( Paid Services )

यह पोस्ट आपको कैसी लगी Star Rating दे कर हमें जरुर बताये साथ में कमेंट करके अपनी राय जरुर लिखें धन्यवाद : Click Here

Call Now Button
You cannot copy content of this page